पाचन शक्ति(Digestive system) को बढ़ाने के 3 नायाब घरेलु नुस्खे !

1208
पाचन शक्ति (Digestive system) को बढाने के लिए आयुर्वेद में एक अद्भुत विधि बताई गई है। इस विधि के द्वारा आप अपनी पाचन शक्ति को मजबूत बना सकते हो पर उससे पहले आप ये जान लीजिये कि आपकी पाचन शक्ति किस कारण कमजोर पड़ती है।

पाचन शक्ति कमजोर पड़ने का सबसे पहला कारण है बेवक्त खाना। अगर आप भोजन को सही समय पर नही खायेगे तो इससे आपकी पाचन शक्ति क्षीण पड जाती है। इसलिए भोजन को हमेशा सही समय पर खाए।

ऐसे ही नींद पूरी न लेना, फ़ास्टफ़ूड अधिक खाना, जल्दी जल्दी भोजन करना, शारीरिक श्रम न करना, एक ही जगह घंटो बेठे रहना तो इससे पाचन शक्ति कमजोर पड़ जाती है।

दोस्तों पाचन शक्ति को मजबूत करने के लिए आप पहले पूरे दिन में मूंग की खिचड़ी या दलिया आदि हल्का भोजन ले और शाम को पेट की सफाई करने के लिए आयुर्वेद का सबसे सर्वोतम चूर्ण त्रिफला का सेवन करे। डेड चमच्च त्रिफला चूर्ण को 1 गिलास दूध के साथ सेवन करे। आप चूर्ण की फांकी मारकर भी उपर से दूध पी सकते है।

दोस्तों इस प्रयोग को करने से आपकी आंतो में जमी सारी गंदगी बाहर निकल जायेगी लेकिन एक बार से नही। पूरे पेट की सफाई के लिए आपको त्रिफला का 1 सप्ताह तक इस्तेमाल करना होगा।

इन सात दिनों में केवल पहले दिन ही आपको मूंग की खिचड़ी आदि हल्का भोजन करना है बाकि के 6 दिनों मे आपको रात के खाने के डेड घंटे बाद त्रिफला चूर्ण का सेवन करना है। इससे आपका पेट एकदम साफ़ हो जाएगा और आपकी पाचन शक्ति भी मजबूत हो जायेगी।

ऐसे ही आप सुबह के समय आवले का जूस का भी इस्तेमाल कर सकते है। आंवला पाचन तंत्र को बहुत जल्दी सही करता है। साथ में ये आपकी भूख को भी बढाता है इसलिए सुबह आवले का जूस जरुर पिए।

ऐसे और भी जूस है जिनका अगर आप रोज सूबह के समय सेवन करते है तो आपकी पाचन शक्ति बहुत मजबूत हो जाती है। जैसे संतरे का जूस, पपीते का जूस, अनार का जूस। इनमे से किसी भी एक फल का जूस आप सूबह के समय सेवन कर सकते है।

अगर आप इनका जूस निकालकर नही पी सकते तो आप इन्हे ऐसे सीधे भी खा सकते है। इससे भी आपकी पाचन शक्ति बढ़ेगी और जब पाचन शक्ति बढ़ेगी तो आपका खाया भोजन पूर्ण रूप से पचेगा और भोजन के पचने पर ही रस, मांस, वीर्य, हड्डी आदि बनते है।

अच्छे स्वास्थ्य के लिए आपका देनिक दिनचर्या का भी अच्छा होना बहुत जरुरी है। आपका देनिक दिनचर्या कैसा होना चाहिये इस विषय पर हम पहले ही लेख लिख चुके हैं जिसका लिंक हमने इस लेख के अंत में दिया है।

दोस्तों पाचन शक्ति को हमेशा सही रखने के लिए दिन ओर शाम का भोजन हमेशा भरपेट नही करना है। आपको थोडा थोडा करके है खाना है। आप सुबह का भोजन हमेशा भरपेट करिए और खाने को चबा चबा कर खाए।

धुम्रपान तम्बाकू और शराब से दूर रहे, तला हुआ और मसालेदार खाने से परहेज करे और रात को कभी देर से न सोये क्योकि इन्ही कारणों से आपकी पाचन शक्ति मंद पड जाती है।

तो दोस्तों ये तो हो गया पाचन शक्ति के बारे में कि कैसे पाचन शक्ति को बढ़ाना है। अब बात करते है वजन बढ़ाने वाले नुस्खो के बारे में:-

⇒खाली पेट कभी नही खानी चाहिए यह 8 चीजेclick करें 

दोस्तों आपका वजन तभी बढ़ पायेगा जब आप खाने के ऊपर पूरा ध्यान रखेंगे। आपको दिन के तीनो समय भोजन करना है। आयुर्वेद के अनुसार सुबह भरपेट भोजन कीजिये, दोपहर को उससे कम और शाम को दोपहर से कम।

जिनकी पाचन शक्ति बहुत कमजोर है वो शाम को भरपेट या भारी भोजन न करे। रात को हल्का व सुपाच्य भोजन ही करे और दिन में फलो का सेवन करे। यानि अगर आप फलो का सेवन करते है तो दिन के 2 बजे से पहले ही फलों का सेवन करे। 2 बजे बाद और शाम को भूलकर भी फलो का सेवन ना करे इस बात का ध्यान रखे।

दोस्तों अब हम आपको वजन बढाने का ऐसा जनरल टोनिक बता रहे है जिसके इस्तेमाल से आपका वजन तेजी से बढ़ने लगेगा:-

उसके लिए शतावरी, छिलका रहित कोंच के बीज, सफ़ेद मुस्ली, असगंध, गोखरू सभी 100-100 ग्राम खरीद ले और सभी को अलग अलग पीसकर कपडछन कर ले यानि पतले कपडे से छान ले और सबको आपस में मिलाकर रख ले। बस आपकी वजन बढ़ने वाली अद्भुत दवा तैयार है।

अब इसका सेवन कैसे करना है ये थोडा जान लीजिये:-

1. दोस्तों इस अद्भुत चूर्ण का सेवन आपको सुबह शाम खाली पेट करना है। सेवन की मात्रा 5 ग्राम चूर्ण को थोड़े से देशी घी में मिलाकर सेवन करे आप चाहे तो उपर से मिश्री मिला हुआ दूध भी पी सकते है पर सुबह नही केवल शाम को पिए।

शाम वाली खुराक खाना खाने के कम से कम 2 घंटे बाद ले और आधा घंटे बाद सोये। खुराक लेते ही ना सोये इस बात का ध्यान रखे।

इस प्रयोग से आपका दुबलापन दूर होगा और पौरुषशक्ति बढती है। यह काफी पोष्टिक, धातुवर्धक और श्रेष्ठ वाजीकारक नुस्खा है। दोस्तो आपको ब्रम्हचर्य का पालन करते हुए इस नुस्खे का इस्तेमाल करना है तभी आपको पूर्ण और जल्दी लाभ मिल पायेगा।

आपको 15 दिन में ही इस नुस्खे का असर हो जाएगा और एक महीने में आपका शरीर सुडोल बन जाएगा पर आपको इस नुस्खे का इस्तेमाल 2 से 3 महीने तक लगातार करना है ताकि आपका वजन ठहर सके।

2. वजन बढाने का दूसरा नुस्खा – सफेद मुस्ली और असगंध दोनों को 100 -100 ग्राम लेकर दोनों को अलग अलग पिस कर कपडछन कर ले और किसी बर्तन में डाल ले। इस चूर्ण की एक छोटी चम्मच मिश्री मिले हुए दूध के साथ रात्रि में सेवन करे। इस नुस्खे से मांस और बल दोनों की वृधि होती है।

3. वजन बढाने का तीसरा उपाय – 50 ग्राम कच्ची मूंगफली के दानो को तीन चार घंटे पानी में भिगोकर छिलका उतारकर पिस ले। अब कढाई में 25 ग्राम देशी घी डालकर धीमी आंच पर सेके।

जब थोडा सिकने लगे यानि भूरापन आने लगे तब पीसी हुई मिस्री मिलाकर 2 छोटी इलाइची कूटकर डाल दे और पूरा सिकते ही उतारकर थोडा ठंडा होने दे। अब इसका सेवन करे। इसका सेवन आपको सुबह के समय ही करना है। कुछ दिनों तक इस हलवे का सेवन करने से दुबलापन दूर होता है।

दोस्तों वजन बढ़ाने के और भी बहुत सारे नुस्खे हमारे पास मौजूद है पर जो कारगर नुस्खे है वो ही हम आपको बता रहे है। ऐसे और भी कारगर नुस्खे है जो हम किसी दूसरे लेख में आपको बताएँगे।

पर आपको इन नुस्खो पर ही निर्भर नही रहना है। खानपान पर भी विशेष ध्यान रखना है। आप खायेगे तभी आपका वजन बढ़ पायेगा।

दोस्तों इसके साथ ही अगर आप सुबह शाम हल्का व्यायाम करते है तो सोने पे सुहागा हो जाएगा। इससे आपका वजन और तेजी से गेन होगा। अगर आप ज्यादा व्यायाम नही कर सकते तो कम से कम 10-15 मिनट तक व्यायाम जरुर करे।

व्यायाम से आपका मन शांत रहेगा, आपका शरीर फिट रहेगा, भूख खुलकर लगेगी, नींद अच्छी आएगी और आप काफी रिलेक्स महसूस करेंगे।

कैसी होनी चाहिए आपकी दैनिक दिनचर्या?=> Click Here

अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो तो आप इस लेख को जरुर शेयर कर दीजिये ताकि सब लोगो तक यह जानकारी पहुँच सके और वो अपना उपचार स्वयं कर सके। धन्यवाद !