पेट दर्द की समस्या को ठीक करेंगे यह जबरदस्त उपाय

16

पेट दर्द की समस्या –

आजकल सभी लोग स्वस्थ रहना चाहते है क्योकि आपका स्वस्थ शरीर जीवन में नई उमंग लाने का काम करता है,जिसमें पेट एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। माना गया है कि शरीर से जुडी अधिकतर आतंरिक समस्याएं पेट से जुड़ी होती हैं, क्योंकि जब हम भोजन ग्रहण करते है तो वह पेट में जाकर एक नई ऊर्जा का प्रवाह करता है। जिससे व्यक्ति स्वस्थ रहता है परन्तु अक्सर लोग गलत खान-पान की वजह से पेट की कई समस्याओं से ग्रस्त हो जाते है जिसमें पेट दर्द भी शामिल है। पेट दर्द एक आम समस्या है, जो कभी भी किसी को भी, किसी भी समय हो सकती है। वहीं, कुछ मामलों में यह समस्या किसी गंभीर बीमारी के लक्षण के रूप में भी सामने आ सकती है। पर अगर कभी-कभार खाने पीने या गैस की वजह से पेट में दर्द होना आम बात है, लेकिन अगर बिना किसी कारण आपके पेट में दर्द हो रहा है, तो यह किसी बीमारी का लक्षण भी हो सकता है। अब हम आपको बतायेंगे पेट के अलग-अलग हिस्सों में दर्द के क्या कारण हो सकते है, अगर आपको पेट में बाएं तरफ दर्द हो रहा है, और यह कभी-कभी नहीं होकर रोजाना होता है, तो सावधान हो जाइए। यह गुर्दे से सम्बन्धित समस्या या फिर किडनी में पथरी भी बन सकती है इस परिस्थिति में पानी अधिक मात्रा में पीना चाहिए। पेट में दाहिने हाथ की तरफ अगर दर्द होता है या अक्सर दर्द रहता है तो यह अपेंडि‍साइटिस की समस्या के कारण भी हो सकता है। अगर महिलाओं में यह दर्द नीचे की और होता है तो उनको गर्भाशय से सम्बन्धित समस्या भी हो सकती है। और
अगर पेट के बीचो-बीच में दर्द होता है तो आपको पेट के अल्सर की समस्या हो सकती है। इसके अलावा यह गैस या एसिडिटी के कारण भी ऐसा हो सकता है। पेट में ऊपर की ओर और छाती से ठीक नीचे की और अगर दर्द होता है, तो ऐसा एसिडि‍टी के कारण ही हो सकता है। ऐसे में तुरंत दवा लेने के बजाए आप एक गिलास ठंडा दूध पी लें या फिर अदरक का एक छोटा सा टुकड़ा लेकर उसे मुंह में डालकर चूसें। इसके बाद भी यदि दर्द कम न हो, तो डॉक्टर को जरूर दिखाएं। पेट में नीचे की तरफ होने वाला दर्द मूत्राशय से जुड़ी समस्या के कारण हो सकता है। इसके अलावा यह मूत्रनली में इंफेक्शन के कारण भी हो सकता है। महिलाओं में मासिक दर्द के समय भी पेट के निचले हिस्से में दर्द रह सकता है। कुछ लोगों को में पेट का दर्द संग्रहणी रोग(आईबीएस) अथवा आँत या पेट में जलन के कारण हो सकता है, उल्टी, मितली आने, और दस्त जैसे अन्य कारणों से भी पेट दर्द हो सकता है। इस कारण कुछ लोग पेट के सभी दर्दो को ‘पेट से सम्बंधित दर्द’ कहते हैं।आपके उदर में केवल पेट ही नहीं होता है। आपका लीवर,अपेंडिक्स,किडनी और आंते आदि भी होते है इनमे से कोई एक भी प्रभावित हो जाए तो पेट में दर्द होने लगता है। इसलिए पेट में दर्द का सही कारण जानना मुश्किल होता है और आप यह मानने लगते है कि आपको कोई गंभीर समस्या है। ऐसे में घबराने की जरूरत नहीं है आप डॉक्टर के पास जाकर सही चिकित्सकीय जाँच कराकर सही इलाज ले सकते है। परन्तु अगर आपको कोई आम समस्या है तो आप इनका घरेलू उपाय करके भी आसानी से इलाज कर सकते है

पेट दर्द के लक्षण-

पेट में जलन,रुक-रुक कर पेट में दर्द होना,खट्टी डकारें अधिक आना,
अधिक मात्रा में गैस का बनना,पेट फूलना या भारी महसूस होना
पेशाब करते समय कभी-कभी पेट में दर्द होना,खाना खाने में दिक्कत होना,बुखार आ जाना,सांस लेने में परेशानी होना,उल्टी होने पर खून आना,बार बार पेशाब लगना, मल में खून आना आदि लक्षण पेट दर्द में हो सकते है।

बचाव-

जल्दबाजी में खाना नहीं खाए, यदि आप खाने को कम चबा कर बड़े-बड़े टुकड़े तोड़ कर खाते है तो इसके साथ हवा अंदर चली जाती है जिससे गैस बनती है और पेट दर्द होता है इसीलिए भोजन के चबा-चबा कर खाएं। अधिक देर तक भूखा नहीं रहें क्योकि इससे भी कभी-कभी पेट दर्द होने लगता है। अधिक मात्रा में भोजन नहीं करना है इससे भी पेट में दर्द हो सकता है इसलिए कम मात्रा में पेट भरने तक ही भोजन करें। अधिक फाइबर युक्त पौष्टिक भोजन करें क्योंकि इससे आपका पाचन तंत्र स्वस्थ रहता है। जब भी प्यास लगे पानी जरुर पियें क्योकि यह पेट की गतिविधियों को सही रखता है अल्कोहल,शराब और ,कैफीन युक्त पेय पदार्थों का सेवन नहीं करें
रोगों को फैलने से रोकने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप खाने से पहले और शौचालय जाने के बाद हमेशा अपने हाथों को जरुर धोएं
आपको तनावमुक्त रहना है और ऐसा करने के लिए आप व्यायाम, ध्यान लगाना आदि चीज़ें कर सकते हैं।

घरेलू उपचार –

अनार- अनार में बहुत लाभदायक तत्व होते हैं। पेट में दर्द का कारण अगर गैस है तो अनार के दानों में काला नमक मिला कर खा लें। पेट दर्द से आराम मिलेगा।
पुदीना- पुदीने के चार पांच पत्ते लेकर एक कप पानी में उबाल लें।पानी को गुनगुना होने दें और फिर इसका सेवन करें। पेट दर्द ठीक होगा।
ऐलोवेरा जूस- एक कप एलोवेरा का जूस बनाकर पीना है इससे गैस, कब्ज, डायरिया जैसे कारणों से होने वाले पेट दर्द में आराम मिलेगा। और यह पेट की जलन को भी कम करता है।
नींबू का रस- एक गिलास निम्बू के रस में काला नमक मिलाकर पीना है। इसे पीने के कुछ ही देर में पेट दर्द कम हो जायेगा। धन्यवाद