सिरदर्द की समस्या हो तो अपनाएं ये आसान से घरेलू उपचार !

18

सिरदर्द को ठीक करने के असरकार नुस्खे –

पेट की खराबी बदहजमी या पेट में गैस बनने से सिरदर्द हो सकता है। दर्द के कारण नींद नहीं आती है तथा सिर फटता हुआ सा महसूस होने लगता है। सिरदर्द में कई बार उल्टियाँ भी होती है।ऐसी स्थिति में रोगी कुछ भी काम नहीं कर सकता है। ऐसी स्थिति में कुछ घरेलू उपाय करके राहत पाई जा सकती है।

इसके घरेलू उपाय निम्न है –

1. बेल पत्ते का रस माथे पर लगाने से सिरदर्द दूर होता है। चन्दन को घिसकर और उसमें कपूर मिलाकर माथे पर लेप करें।

2.सिर पर अमृत लगायें और 4-5 बूंद बताशे में डालकर सेवन करें। लौकी का गुदा बारीक़ मसलकर माथे पर लेप करें।

3. तुलसी के पत्तों के रस में जरा सी सौंठ मिलाकर माथे पर लेप करें। छुआरे की गुठली को पानी में घिसकर और थोड़ी दालचीनी का पाउडर मिलाकर माथे पर लेप करे।आराम मिलेगा।

4. हरा धनिया पीसकर माथे पर लगाने से आराम मिलता है। दालचीनी का तेल माथे पर लगाने से आराम मिलता है।

5. 4-5 लौंग पीसकर और थोडा गर्म करके माथे पर लगाये। लौंग तथा पीपल दोनों को पानी से पीसकर दोनों नथुनों में 1-1 बूंद डालें।

6. आंवला,बहेड़ा,हल्दी और हरड सभी थोड़ी -थोड़ी मात्रा में काढ़ा बनाये और मिश्री मिलाकर पियें।

7.साबुत धनिये और मिश्री का काढ़ा बनाकर पिने से भी सिर दर्द में लाभ है।गैस के कारण सिरदर्द होने पर गर्म पानी में नींबू निचोड़कर पियें।

8. तुलसी की पत्ती,काली मिर्च और मिश्री बराबर मात्रा में लेकर और थोडा सा अदरक मिलाकर काढ़ा बनाएं और सुबह खाली पेट पियें सिरदर्द में तुरंत लाभ होगा।

9.दो चम्मच त्रिफला चूर्ण और थोड़ी सी मिश्री मिलाकर भोजन से पूर्व खाने से सिरदर्द में आराम मिलता है।कच्चा नारियल और मिश्री बराबर मात्रा में मिलाकर प्रात:काल चबाने से सिरदर्द में आराम मिलता है।

10. नींबू के रस के दो बुँदे कान में डालने से सिरदर्द में आराम मिलता है। कूट और एरंड की जड़ पीसकर पानी में मिलाये और सिर पर लेप करने से आराम मिलता है।