लीवर(liver)को स्वस्थ रखने के 3 आसान घरेलु उपाय

1291
आज इस लेख में हम जानेंगे घर पर ही आसानी से जबरदस्त लीवर(liver) टोनिक बनाने और लीवर(liver) में जमी गंदगी को साफ़ करने के बेहद आसान, असरदार और घरेलु नुस्खो के बारे में जिनके एक बार के इस्तेमाल से ही लीवर को पहले जैसे साफ़, स्वस्थ और ताकतवर बना सकते है।

ये नुस्खे लीवर से जुडी हर तरह की समस्या और अन्य बीमारियों में भी कारगर साबित हुए है। लीवर का ख़राब होना हमारे स्‍वास्‍थ्‍य को बुरी तरह प्रभावित कर सकता है। एक तो खाना नहीं पचेगा, इससे भोजन के तत्‍व रस और रक्‍त में परिवर्तित नहीं हो पाएंगे,

स्‍वास्‍थ्‍य लगातार गिरता जाएगा, किसी काम में मन नहीं लगेगा। यदि ज़्यादा दिनों तक यदि यह स्थिति रही तो पीलिया, हेपेटाइटिस बी, सी आदि भयानक रोग जन्‍म ले सकते हैं। इसलिए हमेशा लीवर को ठीक रखने का उपाय करना चाहिए।

हमारे शरीर में बिमारी होने के पीछे कुछ न कुछ कारण जरुर होते है। अगर हम किसी भी बिमारी के  कारणों को जानकर फिर उनका उपचार करते है तो ऐसे में हम जिस औषधि का सेवन कर रहे है तो वह औषधि दोगुनी रफ्तार से असर दिखाती है।

सबसे पहले हम जानेंगे लीवर की होने वाली समस्याओ के कारणों के बारे में कि हम ऐसी कौनसी चीजों का सेवन करते है जिसकी वजह से हमे यह समस्या होती है।

⇒एक साल तक आपका लीवर स्वस्थ रहेगा इस उपाय से – How To Cleanse Your Liver⇐click करें 

लीवर की खराबी होने का कारण ज्यादा तेल खाना, ज्यादा शराब पीना, जंक फ़ूड का अत्याधिक सेवन और कई अन्य कारण है जिससे लीवर ख़राब होता है। हालाकि लीवर की खराबी का कारण कई लोग जानते हैं पर लीवर तब खराब होना शुरु होता है जब हमारे शरीर में क्या-क्या बदलाव पैदा होते हैं। यानी कि क्या क्या लक्षण दिखाई देते हैं, इसके बारे में कोई नहीं जानता।

वे लोग जो सोचते हैं कि वे शराब नहीं पीते तो उनका लीवर कभी खराब नहीं हो सकता तो वे बिल्कुल गलत हैं।

हम आपको कुछ परीक्षण बताएंगे जिससे आप पता लगा सकते हैं कि आपका लीवर वाकई में खराब है या नही। कोई भी बीमारी कभी भी चेतावनी का संकेत दिये बगैर नहीं आती। इसलिये आप सावधान रहें।

अगर किसी रोग के लक्षणों की जानकारी हो तो सही समय पर उसके रोकथाम के उपाय और इलाज करके बीमारी को बढ़ने से रोका जा सकता है। नीचे लिखे लक्षणों में से अगर आपको कोई लक्षण दिखे तो ये लिवर की खराबी के संकेत हो सकते है। ऐसे में लापरवाही ना करे और सबसे पहले टेस्ट कराए।

1. मुंह से बदबू आना –

यदि लीवर सही से कार्य नही कर रहा है तो आपके मुंह से गंदी बदबू आएगी। ऐसा इसलिये होता है क्योकि मुंह में अमोनिया ज्याद रिसता है। इस वजह से मुह में बदबू आती है।

2. अत्यधिक थकान होना,

त्वचा का रुखा होना और आँखों के आसपास काले घेरे हो जाना कभी-कभी लीवर की खराबी का नतीजा भी होता है। लीवर कमजोर होने की स्तिथि में त्वचा क्षतिग्रस्त या बेजान हो जाती है और बालो से जुडी समस्याए भी होती है।

3. त्‍वचा क्षतिग्रस्‍त होने लगती है,ख़ासकर आंखों के नीचे की त्‍वचा सबसे पहले प्रभावित होती है। त्‍वचा पर थकान साफ़ नज़र आने लगती है। त्‍वचा का रंग उड़ जाता है और कभी-कभी सफेद धब्‍बे दिखाई पड़ते हैं, इन्‍हें लीवर स्‍पॉट कहा जाता है।

4. यूरिन का रंग बदल जाना –मल-मूत्र में हमेशा हरापन लीवर ख़राब होने का संकेत है। यदि यह कभी-कभार हो तो स‍मझिए लीवर ख़राब नहीं है बल्कि पानी की कमी से ऐसा हुआ।

यदि पीलिया रोग हो गया है तो इसका मतलब कि लीवर में गड़बड़ी आ गई है।

4. भूख न लगना –

अगर भूख न लगने की समस्या या फिर पेट में गेस बनना व् बदहजमी जैसी समस्याए लगातार हो रही है, तो इसे भी लीवर की खराबी का एक लक्षण माना जाता है। इसके साथ ही छाती में जलन और भारीपन भी होता है।

5. मुह का स्वाद ख़राब रहना

फीवर न होने पर भी मुह का स्वाद ख़राब हो जाना और लगातार कडवापन बना रहना, यह भी लीवर की खराबी से कारण हो सकता है। यही नही, लीवर की खराबी होने पर अमोनिया की अधिकता के कारन मुह से बदबू आना भी शुरू हो जाता है।

6. पेट में सूजन –

पेट में सूजन आने का मतलब लीवर बड़ा हो गया है। दोस्तों कई बार हम सुनते और देखते है कि कुछ लोगो के लीवर में सूजन आ जाती है जिससे पेट का आकर बढ़ जाता है। ऐसे में इसे मोटापा समझने की गलती करना आपको परेशनी में डाल सकता है।

तो ये थे कुछ संकेत जिसे जानकर आप पता लगा सकते हो की आपका लीवर ख़राब हुआ है या नही। तो अब जानते है लीवर को साफ़ स्वस्थ और मजबूत बनाने के लिए किन-किन औषधियो का सेवन करना चाहिए जिसके एक बार के इस्तेमाल से ही काफी हद तक लीवर को साफ़ व् ताकतवर बना सके।

  1. लीवर को तेजी से साफ़ और मजबूत बनाने के लिए जिसकी हमे सबसे पहले जरूरत पड़ेगी वो है भूमि आंवला, हल्दी, अदरक और नमक। हमने इसमें भूमि आवंला का प्रयोग किया है जिसे भुई आंवला या भू-धात्री भी कहा जाता है। इसके पत्तों में पौटाशियम की काफी अधिक मात्रा (लगभग 0.83 प्रतिशत) होने के कारण यह काफी अधिक मूत्रल (Diuretic) है।

यह स्‍वत: ही उगता है और जगह-जगह मिल जाता है। अक्‍सर घर के गमले में भी उसकी उत्‍पत्ति हो जाती है और लोग उखाड़कर फेंक देते हैं। यह बहुत ही छोटा व पतला पौधा होता है। इसकी पत्तियां आंवले जैसी होती हैं और उसमें फल भी छोटे-छोटे आंवले जैसे लगते हैं। ये शरीर के विशेले तत्‍वों को आसानी बाहर निकाल देता है।

इसका इस्तेमाल शरीर के अंदरूनी घावों व सूजन और टूटी हड्डियों आदि में किया जाता है। ये पेट में कीड़ों को पनपने नहीं देता है और लीवर को मज़बूत करता है। एनीमिया, अस्थमा, ब्रोकइटिस, खांसी, पेचिश, सूजाक, हेपेटाइटिस, पीलिया व पेट के ट्यूमर में यह काफी उपयोगी है।

इस टोनिक ड्रिक को बनाने के लिए लगभग आधा किलो भूमि आंवला के पौधे जड़ समेत उखाड़ लें और इनको पानी से अच्छी तरह धो लें जिससे मिटटी निकल जाए। इन पौधों को इस प्रकार थोडा मोटा मोटा काट लें कि प्रेशर कुकर में डाल सकें। कृपया ध्यान रखें, इसे जड़ तने समेत ही काटना है जिसे पंचांग कहते हैं।

इस भूमि आंवला को प्रेशर कुकर में तीन लीटर पानी के साथ डाल दें। एक चम्मच हल्दी, एक चम्मच अदरक व स्वादानुसार थोडा नमक भी डाल दें। एक सीटी लगायें व चूल्हे से हटा दें। बिना ढक्कन खोले करीब दस मिनट पड़ा रहने दें। फिर एक सीटी लगाएं व थोडा ठंडा होने दें। इस प्रकार तीन या चार सीटी लगाने के बाद कुकर की भाप बैठ जाने पर खोल लें।

इस काढ़े (Decoction) को छान लें और बोतल में भर कर फ्रिज में रख लें। भूमि आंवला का बेहतरीन लिवर टॉनिक तैयार है। ये तीन सप्ताह तक खराब नहीं होगा।

सेवन की विधि

इसे लेना कैसे ये थोडा जान लेते है। इस तैयार काढ़े का लगभग आधा कप लेकर उतना ही पानी मिलाकर थोडा dilute कर लें। चाहें तो नीम्बू मिला सकते हैं। इसे दिन में दो या तीन बार लें।

दोस्तों ये औषधि इतनी जबरदस्त असरदार है कि इसके परिणाम एक दिन बाद ही महसूस होने लग जायेंगे। इसके महीने भर के इस्तेमाल से ही आपका लीवर साल भर के लिए साफ़ स्वस्थ बना रहता है और आपको पेट से जुडी कोई भी समस्या नही होगी।

आपका पाचन तंत्र बहुत ही मजबूत बना रहेगा जिससे आपका खाना बहुत ही जल्दी पचने लगेगा और आप स्वस्थ रहेंगे तंदरुस्त रहेंगे। High BP जैसे जिद्दी रोगों से बचकर रहेंगे।

तो दोस्तों आप इसका सेवन जरुर करे। इस औषधि का सेवन Jaundice या लिवर के अन्य रोगों में करते है तो इसकी मात्रा दोगुनी करके दिन में चार से पांच बार लेना है। साथ ही खाने में सलाद ,हरी सब्जियों का सेवन करे और फलो में संतरा पपीता तरबूज पाईनापल का सेवन करे।

2. लीवर को स्वस्थ और मजबूत बनाने के लिए दूसरा नुस्खा जिसे बनाने के हमे जरूरत होगी नींबू, काला नमक, धनिया, लौकी, हल्दी और गिलोय का रस।

ये ड्रिंक लीवर की समस्याओ को ठीक करने के लिए अधिक फादेमंद है। इसे तैयार करने के सबसे पहले मिक्सी की सहायता से थोड़े से धनिये के साथ एक गिलास लोकी का जूस तैयार कर ले। इस तैयार ज्यूस में एक चम्मच नींबू का रस एक चम्मच काला नमक 30 ml गिलोय का रस मिलाए। इस तरह लीवर के लिए एक अद्भुत ड्रिक तैयार हो जायेगी।

इस ड्रिक का सुबह के समय खाली पेट सेवन करे। इस ड्रिक के रोजाना इस्तेमाल से आपका लीवर साफ़ स्वस्थ बना रहेता है और पूरे दिन आपके शरीर में ऐनर्जी बनी रहती है।

3. लीवर को स्वस्थ और मजबूत बनाने के लिए तीसरा नुस्खा जिसे बनाने के हमे जरूरत होगी किशमिश और पानी की।

ये नुस्खा बेहद आसान और असरदार है जिसे तैयार करने के लिए 2 कप यानी 400 ml पानी को उबलने के लिए आग पर रखें जब पानी उबलने लगे तो इसमें किशमिश डाल कर 20 मिनट तक उबलने दें फिर गैस बंद कर दे और किशमिस को पूरी रात पानी सोखने दें | दूसरे दिन सुबह खाली पेट (नाश्ते के 30-35 मिनट पहले) किशमिश को खाकर उपर से इस पानी का सेवन करें |

इस ड्रिक के इस्तेमाल से आपकी पाचन शक्ति तेजी होगी जिससे आपके द्वारा खाया हुआ भोजन  जल्दी से पचने लगेगा। आप स्वस्थ रहेंगे तंदरुस्त रहेंगे। दोस्तों ये बेहद आसान व् छोटा सा नुस्खा था जिसे आप आसानी से कर सकते है।

तो ये थे लीवर को साफ स्वस्थ बनाये रखने के लिए कारगर नुस्खे। यहाँ पर बताये तीनो नुस्खे बहुत ही असरदार है जिसके एक बार के इस्तेमाल से ही काफी अच्छे परिणाम देखने को मिलेंगे। तो आप इन नुस्खो का इस्तेमाल करिए और लीवर से जुडी हर प्रकार की समस्या को दूर करिए, जिससे आप हमेशा स्वस्थ रहे तन्दुरुस्त रहे।

अगर आपको इस लेख में कुछ समझ नही आया हो तो आप लेख को एक बार दोबारा पढ़ लीजिये ताकि आपको समझने में कोई परेशानी न हो और अगर आप हमसे कुछ पूछना चाहते है तो आप हमे कमेंट करिए हम आपकी सहायता करने की पूरी कोशिश करेंगे।

तो आशा करते हैं कि यह लेख आपको अच्छा लगा हो और इससे आपको कुछ जानकारी हासिल हुई हो। अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो तो प्लीज आपसे विनती है कि आप इस लेख को जरुर शेयर कर दीजिये क्योकि हम बहुत सारी छानबीन करके आप तक यह जानकारीया लेकर आते है और आपको बताते है।

हमारा तो एक ही सपना है कि इस देश में कोई भी बीमार न हो, सब स्वस्थ रहे तंदरुस्त रहे। तो आपको थोडा हमारा सपोर्ट करना होगा। सपोर्ट यही है कि बस आप POST को शेयर करते रहे ताकि सब लोगो तक यह जानकारियाँ पहुच सके और वो अपना उपचार स्वयं कर सके तथा खुद का डॉक्टर खुद बन सके।

7 COMMENTS