दमा (Asthma)के लक्षण, बचाव और रामबाण घरेलू उपाय

65

दमा (Asthma)के लक्षण, बचाव और रामबाण घरेलू नुस्खे:-

जब फेफड़ों में जकड़न एवं संकुचन होने के कारण साँस लेने में तकलीफ हो तो दमा (Asthma)की स्थिति कहलाती है | ज्यादातर यह रोग अधिक उम्र के लोगों में होता है यह रोग अनुवांशिक भी हो सकता है दमा(Asthma) रोगियों के लिए बदलता मौसम बड़ा खतरनाक होता है क्योंकि मौसम बदलने के बाद जो धुल उडती है उससे दमा (Asthma)रोगियों में पनपने-फैलने का मौका मिल जाता है

वातावरण के प्रदूषित होने के कारण भी दमा के रोगी बढ़ रहे है आज के बदलती जीवन शैली और प्रदुषण भी इसका कारण है यह तकलीफ कभी कम तो कभी ज्यादा घटती-बढती रहती है कभी-कभी खांसी के साथ कफ निकलता है तो रोगी को आराम मिलता है और बलगम न निकले तो रोगी का हाल बेहाल हो जाता है आज के दौर में कुछ आयुर्वेदिक ओषधियाँ दमे में काफी राहत देती है

दमा के लक्षण -साँस फूलना,बार-बार खांसी चलना,खांसी के साथ कफ न निकलना,छाती में जकड़न होना,बेचैनी होना
बचाव के उपाय – धुल,मिटटी,धुँआ,भरे क्षेत्रों और प्रदुषण वाले एरिया में न जाए और जाए तो मुँह पर कपडा या रुमाल से ढककर जाए

बीडी सिगरेट आदि का सेवन नही करे और प्राकृतिक जीवन शैली को अपनाये प्राकृतिक डाइट को फोलो करे click
दमा का उपचार –

1.तेज पत्ता के पत्तों के चूर्ण को अदरक के रस के साथ लेने से दमे में काफी लाभ होता है
2. सुबह खाली पेट 3-4 चम्मच अदरक का रस शहद के साथ लेने से काफी आराम मिलता है
3.जब दमे का दौरा पड़े उस समय जरा सी फिटकरी जीभ पर रखकर चूसने से तुरंत लाभ मिलता है
4.लहसुन की कच्ची कली पर लोंग का तेल की दो-तीन बुँदे डालकर उसको चबाये और गर्म पानी पिए दमा के दौरे नहीं पड़ेगे
5.तुलसी के पत्तो के साथ 2-3 काली मिर्च चबाने से दमे रोग में काफी आराम मिलता है

⇒दमा (अस्थमा) केवल 10 दिन में जड़ से ख़त्म – असरदार नुस्खा – Cure Asthma Permanently in 10 Days⇐click करें