गाय के घी इन बीमारियों में करता है रामबाण इलाज

34

यदि हम गाय से मिलने वाली चीजो बात करे तो भी कुछ अंग्रेजी सभ्यता वाले लोग हमारी बात पर ध्यान नहीं देगें वह हम लोगों को पिछड़ा ,साम्प्रदायिक

और गंवार जो समझते है उनके लिए तो वही सही है जो पश्चिमी कहे तो हम उनको उन्ही के वैज्ञानिक तरीके से समझाते है एक रुसी वैज्ञानिक के अनुसार
घी के घी और चावल की आहुति डालने से महत्वपूर्ण गैसे जैसे एथिलीन ऑक्साइड,प्रोपिलीन ऑक्साइड,फ़ॉर्मल डीहाइड आदि उत्पन्नहोती है एथिलीन
ऑक्साइड गैस जो आजकल सबसे अधिक पयुक्त होने वाली जीवाणुरोधीगैस है जो शल्य चिकित्सा से लेकर जीवनरक्षक औषधियां बनाने तक में उपयोगी है
सबसे आश्चर्य की बात यह है कि एक चम्मच घी को अग्नि में डालने से एक टन प्राणवायु ओक्सीजन बनती है जो अन्य किसी भी उपाय से सम्भव नहीं है
देशी गाय के घी को रसायन कहा गया है जो जवानी कायम रखते हुए बुढ़ापे को दूर रखता है काली गाय के घी खाने से बुढा व्यक्ति भी जवान हो जाता है
गाय के घी में स्वर्ण छार पाए जाते है जिसमें अदभुत ओषधीय गुण होते है जो की गाय के घी के अलावा अन्य घी में नहीं मिलते है

गाय के घी के अदभुत फायदे -:

1. मासिक स्त्राव में किसी भी तरह की गड़बड़ी में 250 ग्राम गर्म पानी में (घी पिघला हो तो 3 चम्मच जमा होतो 1
चम्मच डालकर पिने से लाभ होगा यह पानी मासिक स्त्राव वाले दिनों में ही पीना है
2. गाय का घी नाक में डालने से एलर्जी खत्म हो जाती है ये दुनिया की सारी दवाइयों से तेज असर करता है गाय का घी नाक में डालने कान का पर्दा
बिना ओपरेशन के ठीक हो जाता है नाक में घी डालने से नाक की खुश्की दूर होती है और दिमाग तरोताजा हो जाता है मानसिक शांति मिलती है यादाश्स्त
तेज होती है
3. गर्भवती माँ को गो माँ का घी अवश्य खाना चाहिए इससे गर्भ में पल रहा शिशु बलवान,पुष्ट,और बुद्धिमान होता है
4. दो बूंद देशी गाय का घी नाक में सुबह शाम डालने से माइग्रेन का दर्द ठीक होता है पागलपन दूर होता है लकवा का उपचार होता है बाल झड़ना रुक जाता है
5.गाय के घी से वीर्य बढ़ता है और शारीरिक और मानसिक ताकत में भी इजाफा होता है सम्भोग के बाद कमजोरी आने पर एक गिलास गर्म दूध में एक
चम्मच घी देशी गाय का मिलाकर पी लें इससे थकान बिलकुल कम हो जाएगी
6. देशी गाय के घी कैंसर से लड़ने की अचूक क्षमता होती है इसके सेवन से स्तन ,तथा आंत का कैंसर से बचा जा सकता है गाय का घी न सिर्फ कैंसर को
पैदा होने से रोकता है और यह इस बीमारी के फैलने को भी आश्चर्यजनक ढंग से रोकता है
7. गाय के घी के सेवन से कोलेस्ट्रोल नहीं बढ़ता है वजन भी नहीं बढ़ता है बल्कि वजन को संतुलित करता है यानि के कमजोर व्यक्ति का वजन बढ़ता है मोटे व्यक्ति का कम होता है
8.गाय का घी,छिलका सहित पीसा हुआ कला चना और खांड तीनों को समान मात्रा में मिला कर लड्डू बना लें प्रात: खाली पेट एक लड्डू खूब चबा चबाकर
खाते हुए एक मीठा कुनकुना दूध घूंट -घूंट करके पिने से स्त्रियों के प्रदर रोग में आराम होता है पुरषों का शरीर मोटा ताजा यानि सुडौल और बलवान होता है
इस तरह से देशी गाय के घी का इस्तेमाल करके कई बीमारियों से निजात पाई जा सकती है इसलिए गाय के घी का इस्तेमाल करें और स्वस्थ रहे |