जुकाम की समस्या (common cold)से को कैसे करें ठीक

56

जुकाम की समस्या(common cold) –

आमतौर पर हम देखते हैं कि मौसम में बदलाव शुरू होते ही स्वास्थ्य सम्बन्धी परेशानियाँ उत्पन्न होने लगती है। और अधिकतर लोगों को सर्दी-जुकाम (common cold)हो जाती है। और हर मौसम में लोग सर्दी-जुकाम(common cold)सामना करते ही हैं। 200 से ज्यादा प्रकार के वायरस इस रोग के लिए उत्तरदायी होते हैं, लेकिन राइनोवायरस इसका मुख्य कारण है।

50% सर्दी जुकाम के मामलों में राइनोवायरस को जिम्मेदार माना जाता है। सर्दी का मौसम शुरू होते ही अधिकतर लोग सर्दी-जुकाम से ग्रसित हो जाते हैं। कुछ लोगों पर बदलते मौसम का असर बहुत अधिक होता है। जिसमे कुछ लोगों का इम्यून सिस्टम बहुत कमजोर होता है। और इन्हें हर मौसम में बार-बार जुकाम हो जाता है वैसे तो सर्दी-जुकाम होना सामान्य बात है

लेकिन बार-बार होने पर बहुत सी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। और हमारे शरीर पर इसका विपरीत प्रभाव पड़ता है, लेकिन समय रहते हम सर्दी से बचने का उपाय कर लें तो हमारे शरीर पर इसका कोई खास प्रभाव नहीं पड़ेगा। मौसम में बदलाव के मुताबिक यदि हम जरूरी तैयारी नहीं करेंगे तो हमारा सर्दी-जुकाम का शिकार होना, बाद में नजला, खांसी आदि के शिकार होते जाते हैं और इसी से बुखार भी आ जाता है। यह कहना बिलकुल सही होगा कि कोई भी वायरस हमारे शरीर तब तक असर नहीं करता जब तक हम खुद उसको न्योता नहीं देते।

ऐसे ही हमारी कुछ गलतियों के कारण हमें सर्दी-जुकाम के अलावा हम वायरल बुखार के शिकार भी हो जाते हैं। इसलिए मौसम के बदलाव के समय हमें सावधान रहने की जरूरत है।यह कहना भी गलत होगा कि केवल मौसम में बदलाव से हम सर्दी-जुकाम के शिकार होते हैं, क्योंकि कई बार हमारे खान-पान, रहन-सहन और लापरवाही की वजह से भी हमें यह समस्या हो सकती है।

सर्दी-जुकाम लगने के कारण- मौसम में बदलाव होने पर या सर्दी लगने पर भी गर्म कपड़े नहीं पहनना। अधिक धुल मिटटी और प्रदूषित जगहों पर अधिक समय तक रहना। हमारे शरीर के इम्यून सिस्टम का कमजोर हो जाना।अधिक मात्रा में ठंडी चीजों का सेवन करना

सर्दी-जुकाम के मुख्य लक्षण – सिरदर्द होना, सर्दी लगने से गले में खराश हो जाना,बन्दनाक की समस्या का होना,लगातार नाक का बहना,हल्का,बुखार आना,चिडचिडापन होना आदि जुकाम के लक्षण है

जुकाम से बचाव के उपाय –

ठंडा फ्रिज का पानी नहीं पियें- सर्दी-जुकाम होने पर ठंडा पानी नहीं पीना चाहिए इससे आपको परेशानी बढ़ सकती है जुकाम होने पर पीने के लिए हल्के गुनगुने पानी का ही इस्तेमाल करे। इससे आपका जुकाम जल्दी ठीक होगा।
प्रदूषित व धुल भरे क्षेत्रों में न जाएँ- ऐसी प्रदूषित जगहों पर नहीं जाएँ इससे आपकी समस्या और बढ़ सकती है अगर आप पहले से जुकाम से पीड़ित है तो आप को बुखार भी आ सकता है।
सर्दियों में गरम कपड़ो का उपयोग करे- सर्दियों में जब भी सर्दी – जुकाम होता है तब अपने शरीर को ठण्ड से बचाने के लिए गरम कपड़ो का ही उपयोग करें। इससे आपके शरीर का तापमान एक समान रहेगा जिससे आपको सर्दी से निपटने में आसानी होगी।
गर्म सूप जरुर पियें – जब भी आपको सर्दी-जुकाम लगे तो गरमा गरम सूप जरुर पीये। यह सर्दी-जुकाम बहुत जल्द ठीक कर देगा।
अदरक की चाय- अदरक की चाय सर्दी-जुकाम वालों लिए काफी लाभकारी होती है। जब भी आपको सर्दी-जुकाम हो तब चाय में अदरक डालकर इसका उपयोग करे। इससे सर्दी-जुकाम जल्दी आराम मिलता है।
नमक के पानी से गरारे करें- नाक बंद होने पर और गले में खराश होने पर गर्म पानी में नमक डालकर गरारे करें। बंदनाक और गले की खराश में आराम मिलेगा।

दूध में हल्दी डालकर पिए-

दूध व हल्दी दोनों हमारी सेहत के लिए के लिए अच्छे है और दोनों को मिलाकर पीना और भी ज्यादा फायदेमंद है। इसलिए सर्दी जुकाम व कफ को दूर करने के लिए दूध में हल्दी डालकर पीये ताकि आपको आराम मिल सके।

घरेलू उपचार –

काली मिर्च – अगर खांसी के साथ कफ भी आता है तो आधा चम्मच काली मिर्च को देसी घी के साथ मिलाकर खाएं। आराम मिलेगा।
इलायची – जुकाम होने पर इलायची को पीसकर रुमाल पर लगाकर सूंघने से सर्दी-जुकाम और खांसी ठीक हो जाती है। इसके अलावा चाय में इलायची डालकर पीने से आराम मिलता है।
तुलसी चाय – हर्बल और तुलसी चाय पीने से जुकाम में आराम मिलता है।
खजूर- खजूर को दूध के साथ उबाल कर पीने से आपको जुकाम में आराम मिलेगा।
सरसों का तेल- सरसों का तेल नहाने के बाद अपने नाक पर लगाये इससे आपका जुकाम ठीक होगा।

⇒भोजन और प्राण शक्ति का रहष्य जिसे जानने के बाद आप कभी बीमार नही होंगे (प्राण शक्ति Part-2)⇐click करें