पायरिया (Pyorrhea) को करे जड़ से खत्म

360
Pyorrhea

पायरिया (Pyorrhea home remedies) को जड़ से खत्म कर देगा यह घरेलू नुस्खा दांतो के साथ-साथ मसूड़ों का स्वस्थ रहना बेहद जरूरी होता है क्योंकि अगर मुंह की सफाई ठीक से नहीं होती है

तो शरीर में कई सारी गंभीर बीमारियां होने का खतरा बढ़ जाता है। अक्सर देखा जाता है कि बहुत से लोगों के मुंह से बदबू आती है जिसे लोग बस यूं ही नजरअंदाज कर देते हैं। कई बार तो ऐसा भी होता है कि मसूड़ों में सूजन होती है या फिर कभी कभी उनसे खून भी ब्रश करने के दौरान आता है। लेकिन हम उसके प्रति बहुत ज्यादा सचेत नहीं होते हैं। अगर आपके मुंह से भी बदबू आने की समस्या है या फिर आप के मसूड़े में सूजन है या ब्रश करते वक्त खून आ रहा है तो आपको सतर्क हो जाने की जरूरत है क्योंकि हो सकता है आपको पायरिया की समस्या हो। दरअसल पायरिया दांत और मसूड़े से जुड़ी हुई एक समस्या है जिसमें मुंह से बदबू आना, मसूड़ों से खून निकलना, दांत और मसूड़ों में दर्द होना आदि जैसी समस्याएं देखने को मिलती है।

इन समस्याओं से बचने के लिए हमें अपने दांतों और मसूड़ों की विशेष देखभाल करनी चाहिए। रोज सही से ब्रश करने के बाद भी अक्सर देखा जाता है कि लोगों को दांतों और मसूड़ों से जुड़ी समस्या देखने को मिल जाती है। यह एक ऐसी समस्या है जिससे अधिकतर लोग पीड़ित हैं। इसमें मसूड़ों की अंदरूनी परत और हड्डी और मसूड़ों के बीच में दूरी आ जाती है और इन हिस्सों में बैक्टीरिया और संक्रमण पैदा होते हैं और धीरे-धीरे इसमें सड़न पैदा हो जाती है। नतीजा यह होता है कि मुंह से बदबू आने लगती है, दातों में दर्द रहने लगता है और ब्रश करने के दौरान खून भी निकलता है। पायरिया दाँतो की एक गम्भीर बीमारी हैं, जो दाँतो के आस-पास के मांस पेशियों को संक्रमित कर के उन्हें नुकसान पहुँचाती हैं, जो लोग खाना खाने के बाद दाँतो की सफाई अच्छी तरह नही करते उन्हें पायरिया जैसी गंभीर बीमारी होने का खतरा अधिक हो जाता है अगर समय पर पायरिया का इलाज नहीं कराया जाएँ तो आप के सभी दांत गिर सकते हैं, कुछ लोग ब्रश तो करते हैं, पर जीभ को अच्छी तरह से साफ नहीं करते है,जिससे मुँह में बैक्टीरिया पनपने लगते हैं, ये भी पायरिया होना का एक कारण हैं,

पायरिया के कारण –
  1. पायरिया की शुरुआत, दांतों की सफाई ठीक से नहीं करना और अनियमित ढंग से खाना खाने तथा दिनभर कुछ-न-कुछ खाते रहने की वजह से तथा भोजन के सही से न पचने के कारण होता है।
  2. यकृत (लिवर) में गड़बड़ होने से शरीर में रक्त की अम्लता बढ़ जाती है दूषित अम्लीय रक्त के कारण दांत पायरिया से ग्रसित हो जाते हैं।
  3. नॉनवेज खाना खाने तथा अन्य गरिष्ठ भोजन पदार्थों का सेवन, पान, गुटखा, तम्बाकू आदि चीजों का बहुत अधिक मात्रा में सेवन, मुंह से साँस लेना, खाने को ठीक से चबाकर न खाना, बदहजमी, कब्ज आदि पायरिया होने के मुख्य कारण हैं।
  4. कई बार खाना खाने के पश्चात खाने के कणों का दांतो में अटकने से पायरिया जैसी गंभीर बीमारियां हो जाती हैं।
  5. कई बार अत्यधिक धूम्रपान गुटका और पान खाने की वजह से दातों में मैल जम जाता है जिसकी वजह से पायरिया होता है।
  6. कई बार ज्यादा चॉकलेट और कैंडी के सेवन से भी पायरिया की समस्या हो जाती हैं।

पायरिया के लक्षण-

ब्रश करते समय मसुडो से खून आना,मुंह से बदबू आना,दांत हिलने लग जाना,मसूड़े का दूर हो जाना,खाना चबाने पर दर्द होना,दांत गिरने लगना,मुंह का स्वाद बदल जाना,मसूड़ों से खून या पस निकलना,मुंह में छाले या जलन,दांतों में दर्द,सांसों से बदबू आना
दांतों का कमजोर होना,दांतों के बीच गैप आना आदि लक्षण हो सकते है।

पायरिया से बचाव के उपाय –

  • मुंह की अंदर साफ-सफाई का विशेष ख्याल रखें।दांतों को अच्छी तरह से ब्रश करके साफ करें।
  • मंजन करने के बाद जीभ को भी अच्छे से साफ करें।
  • खाने खाने के बाद सही से कुल्ला करें खाने का टुकड़ा दांतों के बीच न रहने दें।
  • सुबह और रात को सोने से पहले दांतों को आवश्यक रूप से साफ करें या ब्रश करें।
  • पानी भरपूर मात्रा में पीना चाहिए।
  • पायरिया के उपचार के दौरान रोगी को बिना मसाले की उबली सब्जियों का सेवन करना चाहिए।
  • बाहर का खाना खाने से बचे और जंक फ़ूड आदि का सेवन नही करें तथा दूध और दूध से बनी चीजो का सेवन नहीं करना चाहिए।

पायरिया के घरेलू उपचार

  1. 5-6 बूंद लौंग का तेल लेकर एक गिलास गर्म पानी में मिलाकर रोज गरारे करने या कुल्ला करने से पायरिया ठीक हो जाता है।
    लौंग का तेल अपने दाँतो में रात के समय लगाकर सोने से राहत एवं जीवाणु भी खत्म होगा
  2. रात को एक टुकड़ा फिटकरी को पानी में डाल कर रखें। सुबह उठ कर इस पानी से एक मिनट तक कुल्ला करें।और नारियल या सरसों के तेल से जितनी देर तक कुल्ला कर सकें करें।
  3. नीम के पत्तों की राख में कोयले का चूरा और कपूर मिलाकर रोज़ रात को लगाकर सोने से पायरिया में लाभ होता है। नीम या बबूल की टहनी का दांतुन करें।
  4. काली मिर्च के चूर्ण में थोडा सा नमक मिलाकर दाँतों पर मलने से भी पायरिया रोग ठीक होता है।
  5. नीम की टहनी को पत्तियों के साथ सुखा लें फिर जलाकर के पीस लें, अब इसमें लौंग,और पिपरमिंट व नमक मिलाकर के सुबह शाम दांतो को इससे साफ़ करें।
  6. नींबू के छिलकों को सुखा करके पीस लें व इस मंजन का उपयोग दांतों पर करें।
  7. दांत के दर्द में कपूर का टुकड़ा कुछ देर तक, दांत के पास दबाकर रखें व बाद में साफ पानी से कुल्ला करलें।
  8. अदरक का छोटा टुकड़ा दांतों से चबाएं व कुछ देर तक मुँह में ही रहने दें,इससे दांत दर्द में तुरंत आराम मिलेगा।
  9. कपूर का टुकड़ा पान में रख कर खूब चबाने और लार को बाहर निकालने से पायरिया खत्म होता है।
  10. काली मिर्च के पाउडर में थोड़ा-सा नमक मिला कर दांतों पर मलने से भी पायरिया से छुटकारा मिलता है।

यह भी पढ़े⇒ पायरिया(Pyorrhea)से परेशान है तो यह रहा आपकी समस्या का समाधान ⇐

⇒दांतों में जमे गंदे Plaque / Tartar को 2 मिनट में हटाकर मोतियों जैसा चमकदार बनाये।⇐click करे