मधुमेह (Diabetes) का ठीक करने का सरल घरेलु उपचार

870

⇐भारत में 5 करोड़ 70 लाख से ज्यादा लोगों को डाइबटीज (diabetes) है और 3 करोड़ से ज्यादा को हो जाएगी अगले कुछ सालों में (सरकार ऐसा कह रही है ) । हर 2 मिनट में एक आदमी डाइबटीज से मर जाता हैं और complications बहुत है।

किसी की किडनी खराब हो रही है, किसी का लीवर खराब हो रहा है, किसी को paralysis हो रहा है, किसी को brain stroke हो रहा है, किसी को heart attack आ रहा है। कुल मिलकर complications बहुत है diabetes के।

मधुमेह (diabetes) या चीनी की बीमारी एक खतरनाक रोग है। रक्त ग्लूकोज (blood sugar level ) स्तर बढा़ हुआ मिलता है। यह रोग मरीजों के (रक्त मे गंदा कोलेस्ट्रॉल) के अवयव के बढने के कारण होता है। इन मरीजों में आँखों, गुर्दों, स्नायु, मस्तिष्क, हृदय के क्षतिग्रस्त होने से इनके गंभीर, जटिल, घातक रोग का खतरा बढ़ जाता है।

तो ऐसी स्थिति मे हम क्या करें ??

diabetesहमारी एक छोटी सी सलाह है कि आप insulin पर ज्यादा निर्भर ना रहें। क्यूंकि ये insulin डायबिटीज से भी ज्यादा खराब है, इसके side effect  बहुत हैं। तो आप ये आयुर्वेद की दवा का फार्मूला लिखिये और जरूर इस्तेमाल करें।

100 ग्राम मेथी का दाना ले ले इसे धूप मे सूखा कर पत्थर पर पीस कर इसका पाउडर बना लें।

100 ग्राम तेज पत्ता ले लें इसे भी धूप मे सूखा कर पत्थर पर पीस कर इसका पाउडर बना लें।

150 ग्राम जामुन की गुठली ले लें इसे भी धूप मे सूखा कर पत्थर पर पीस कर इसका पाउडर बना लें।

250 ग्राम बेलपत्र के पत्ते ले लें इसे भी धूप मे सूखा कर पत्थर पर पीस कर इसका पाउडर बना लें।

इन सबका पाउडर बनाकर इन सबको एक दूसरे मे मिला लें । बस दवा तैयार है। इसे सुबह -शाम (खाली पेट ) 1 से डेड चम्मच  खाना खाने से एक घण्टा पहले गरम पानी के साथ लें। 2 से 3 महीने लगातार इसका सेवन इसका सेवन करने से आपकी शुगर (diabetes) की प्रोब्लम दूर हो जायेगी।

दोस्तों अगर आप इसके साथ एक और काम और करे तो सोने पे सुहागा हो जाएगा और पहले जो हमने दवा बताई थी वो बहुत जल्दी काम करेगी। मतलब 1 से डेड महीने में ही आपकी शुगर की समस्या का खात्मा हो जायेगा।

तो दोस्तों डायबिटीज (Diabetes) दवा का फार्मूला लिख लीजिये –

1.छोटी हरड – 100 ग्राम

2.बहेड़ा – 200 ग्राम

3.आवला – 300 ग्राम

इनको लाकर अच्छे से धो ले और इनको धुप में सुखा दे। सूखने के बाद इनको कूटकर इनका पाउडर बना ले और किसी बर्तन में स्टोर करके रख ले। बस बर्तन प्लास्टिक का नही होना चाहिए।

अब लेने की विधि जान लीजिये।

रात को खाना खाने के डेड घंटे बाद एक से डेड चमच गर्म दूध के साथ प्रयोग करना है। एक बात आप जान लीजिये कि जब तक आपका पेट साफ़ नही होगा तब तक आप कितनी भी दवाई खाओ असर नही करेगी। इसलिए पहले पेट साफ़ होना जरुरी है। पेट साफ़ के लिए हमने आपको हरड, बहेड़ा, आवला बता दिया है। यह आपके सारे पेट को साफ़ करेगा और साफ़ ही नही आपको सम्पूर्ण रोगों से भी बचायेगा।

अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो तो आप इस लेख को जरुर शेयर कर दीजिये ताकि सब लोगो तक यह जानकारी पहुँच सके और वो अपना उपचार स्वयं कर सके। धन्यवाद !

⇒Diabetes को जड़ से ख़त्म कर देंगे यह 3 नुस्खे⇐click करे  

ये भी पढ़ें  मधुमेह (Diabetes) को करें जड़ से समाप्त इन उपायों से