गौमूत्र अर्क (Cow urine extract)के फायदे इतने है कि अगले दिन से ही इसे पीना शुरू कर देंगे आप !

1750
आज हम आपको गौमूत्र अर्क(Cow urine extract) के फायदों के बारे में बताएँगे जिन्हें जानकर आप अगले दिन से ही गौमूत्र अर्क (Cow urine extract)पीना शुरू कर देंगे।

सबसे पहले हम बात करते है गौ मूत्र अर्क के बारे में कि ये क्या होता है।

दोस्तों गाय के शरीर से निकला हुआ सीधा सीधा मूत्र तो गौ मूत्र कहलाता है वो आप सभी जानते है लेकिन वो अर्क नही है। बहुत सारे लोग उसी को अर्क समझ बैठते है।

अर्क गौमुत्र को वास्पीकरण करके बनाया जाता है और उसी वाष्पीकरण किये हुए गौमूत्र अर्क का जब हम रोज दो से चार चम्मच सेवन करते है तो शरीर में जमा सारा कचरा बाहर आने लगता है तथा सभी बीमारियों का नाश होने लगता है।

गौमूत्र का इस्तेमाल वैदिक काल से रोगों के इलाज के लिए आयुर्वेद में होता आया है। यह शरीर को शुद्ध करता है। गौमूत्र अर्क का इस्तेमाल बहुत से रोगों में होता है

जैसे की सामान्य दुर्बलता, मोटापा, पेट रोग, त्वचा रोग, मधुमेह, खांसी, जिगर, अस्थमा, आंत्र परजीवी यानि आंत के कीड़े, detoxification, गठिया का रोग, जोड़ों के दर्द, और असंख्य बिमारियो में अर्क का इस्तेमाल किया जाता है।

दोस्तों गौमूत्र अर्क कितना प्रभावशाली है इसके लिए हम एक प्रयोग करते है –

इस प्रयोग में हमने एक गिलास ली है जिसमे पानी भरा हुआ है। ये गिलास हमारे शरीर को दर्शायेगा। अब हम इस गिलास में चावल मिला देते है। ये चावल हमारे भोजन और शरीर के अंदरूनी हिस्सों को दर्शायेगा।

इसके साथ हम एक बीटाडीन की शीशी लेंगे। दोस्तों इसका प्रयोग हम घाव, चोट लगना, छिल जाना जैसी जगहों पर करते है। ये केवल बाहरी प्रयोग के लिए है यानि हम इसे अपने शरीर में नही ले जा सकते। अगर हम ऐसा करते है तो यह पोईजन का काम करता है और शरीर में जहर फेलने लगता है।

इस प्रयोग में हम इसका यूज़ इसलिए कर रहे है क्योकि यह उन सभी मिलावटी खाद्य पदार्थो में मिलाये जाने वाले केमिकल को दर्शायेगा जिसके कारण हम बीमार पड़ते है जिसके कारन लोगो को गंभीर से गंभीर बीमारियों से गुजरना पड़ता है। तो इसकी भी थोड़ी मात्रा हम इसमे मिला देते है। अब जैसे ही इसको मिलाया तो सारा पानी काला हो गया है और इसमे डाले गये चावल भी काले पड गये है।

दोस्तों असल में भी ये ही हमारे शरीर के साथ हो रहा है। इन्ही केमिकल की वजह से शरीर बीमारियों और रोगों से भरा पडा है जिससे शरीर के सारे अंदरूनी पार्ट्स दूषित हो रहे है तथा अपना कार्य ठीक तरीके से नही कर पा रहे है और इसी वजह से लोग बीमार पड रहे है।

इस प्रयोग से पता चल जाता है कि गौमूत्र अर्क कितना चमत्कारी और प्रभावशाली है। दोस्तों इस प्रयोग को आप ध्यान से पढ़िये और एक बार खुद इस प्रयोग को करके देखे।

अब बात आती है गौमूत्र अर्क की दोस्तों अब हम अपने जीवन में एक अच्छी आदत डालते है गौमूत्र अर्क पीने की। हमने इसमे पतंजली का गौमूत्र अर्क काम में लिया है। जैसे ही हमने इस दूषित शरीर यानि गिलास में एक से दो ढक्कन गौमुत्र अर्क की मिलाते है

तो आप देखेंगे कि दूषित पानी साफ़ होने लगता है ओर इसमे डाले गये चावल जो काले पड गये थे वो भी अब धीरे धीरे साफ़ होने लगे है। यानि अगर आप लगातार गौमूत्र अर्क का सेवन करते है तो आपको किसी भी प्रकार के रोग नही हो सकते।

जब आपके शरीर का ही शुद्धिकरण हो जायेगा तो बिमारिया तो होगी ही नही। दोस्तों इस प्रयोग को अगर आप घर पर करते है तो आप इस पानी को पिए नही इस बात का विशेष ध्यान रखे क्योकि इस प्रयोग में हमने सीधा जहर डाला है जो की घातक साबित हो सकता है अगर आप इसे पीते है तो। इसलिए इसे पीने की भूल न करे।

दोस्तों अर्क के बारे में तो आपने जान लिया की यह कितना असरकारक है अब जानते है की इसका प्रयोग कैसे करना है –

रोज सुबह खाली पेट 2 से 4 चम्मच गौमूत्र अर्क और उतनी ही मात्रा में पानी उसमे मिलाये और सुबह से समय सेवन करे। इसके लगातार सेवन से शरीर में जमे टोक्सिंस बाहर निकल जाते है और बॉडी डिटोक्स्सी फाई हो जाती है।

ये अर्क खून में जमे बेड कोलेस्ट्रोल को ख़तम करता है, ट्राइग्लिसराइड्स को कम करता है, मोटापा कम करता है। यह हमारे शरीर में मोजूद तीनो दोष वात पित्त कफ का नाश करता है और जिनको शुगर की समस्या है उनके रक्त में बढे हुए गलुकोज को कम करता है।

साथ ही महिलाओं को होने वाली Leucorrhoea सफ़ेद पानी की समस्या को भी ख़त्म करता है। हाई बीपी हो या लो बीपी दोनों को ख़त्म करता है।

दोस्तों यह एंटीऑक्सिडेंट और एंटी- हाईपरग्लीसीमिक है। एंटीऑक्सीडेंट होने से ये कोशिकाओं की रक्षा करता है। एंटी- हाईपरग्लीसीमिक एजेंट रक्त में अतिरिक्त चीनी के संचय का विरोध करता है।

दोस्तों ये अर्क मूत्र सम्बन्धी रोग, पेट के रोग, पथरी की समस्या, त्वचा रोग, खून की कमी, अपच, लीवर समस्या, गठिया और अन्य पुरानी बीमारियों के इलाज में बहुत ही कारगर है इसलिए आप इसका सेवन जरुर कीजिये।

ये गौमूत्र अर्क आपको किसी भी आयुर्वेदिक स्टोर या पतंजलि स्टोर पर मिल जाएगा और अगर जो लोग ऑनलाइन मंगवाना चाहते है वो इस पोस्ट के अंत में दिए गए लिंक पर क्लिक करके आर्डर कर सकते हैं।

दोस्तों अगर आप एक साथ अधिक गौ मूत्र ला सकते है जैसे गौशालाओ से या अपने किसी सम्बन्धी दोस्त जिसके पास अधिक गाये हो तो आप घर पर भी अर्क बना सकते है।

उसके लिए हम अलग से पोस्ट लिखेंगे। अगर आप चाहते है की हम आपको बहुत ही सरल तरीके से घर पर ही अर्क बनाना सिखाये तो आप हमे कमेंट करके जरुर बताए।

दोस्तों हम एक बात और कहना चाहेंगे कि अगर आपके घर में गाय है तो आप अर्क का इस्तेमाल मत करिए आप ताजा गौमूत्र का सेवन करिए। अर्क तो उन लोगो के लिए है जिन्हें ताजा गौमूत्र नही मिलता हो।

अगर आप रोज ताजा गौमूत्र पीते है तो अर्क से भी ज्यादा फायदे ताजा गौमूत्र पिने के है। जितने भी फायदे हमने आपको बताये है उससे भी अधिक फायदे गौमूत्र पीने के है।

दोस्तों ताजा गौमूत्र यानि गाय के शरीर से निकला हुआ सीधा सीधा मूत्र। मूत्र लेते समय एक बात का ध्यान रखे की जिस गाय का मूत्र आप ले रहे है कही वो गर्भवती तो नही है और एक बात का ध्यान रखे की गाय माने देशी गाय का ही मूत्र काम में लेना है जर्सी का मूत्र नही लेना है। इस बात का विशेष ध्यान रखें।

अब गौ मूत्र कितनी मात्रा में पीना है और कैसे पीना है ये भी जान लेते है –

दोस्तों देशी गाय का मूत्र लेने के बाद उसे सूती कपडे की आठ परत करके छान ले और रोजाना आधा कप सुबह खाली पेट सेवन करिए और आधे घंटे तक कुछ भी न खाए पिए।

ऐसे ही लगातार इसका सेवन करते रहने से कुछ ही दिनों में शरीर का कायाकल्प होने लगता है। आपके शरीर में जमा सारा कचरा बाहर निकलने लगता है, चहरे में चमक आने लगती है और यही नहीं, गौमूत्र के प्रयोग से बडे़-बडे़ रोग जैसे, दिल की बीमारी, मधुमेह, कैंसर, टीबी, मिर्गी, एड्स और माइग्रेन आदि को भी ठीक किया जा सकता है।

⇒डायबिटीज से लेकर पथरी तक को ठीक कर सकता है ये नुस्खा⇐click करें 

दोस्तों पहले तो विज्ञान भी नही मानती थी पर आज विज्ञान भी गौमूत्र के चमत्कार को मान लिया है और अमेरिका ने तो इसपे पेटेंट भी ले लिया है।

अमेरिका ने गौ मूत्र पर 6 पेटेंट ले लिए हैं और अमेरिकी सरकार हर साल भारत से गाय का मूत्र आयात करती है और उससे कैंसर की दवा बनाती हैं। उसको इसका महत्व समझ आने लगा है। जबकि हमारे शास्त्रो मे करोड़ो वर्षो पहले से इसका महत्व बताया गया है।

इसलिए आपसे निवेदन है की आप गौमूत्र जरुर पिए। गौमूत्र से नफरत मत करिए ये आपके लिए बहुत ही अद्भुत है।

⇒मात्र 24 घंटे में लीवर की सारी गंदगी साफ़ करे (detox liver)⇐ click करें 

अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो तो आप इस लेख को जरुर शेयर कर दीजिये ताकि सब लोगो तक यह जानकारी पहुँच सके और वो अपना उपचार स्वयं कर सके। धन्यवाद !